अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्यतिथि पर PM मोदी, राष्ट्रपति मुर्मू समेत नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

बीजेपी नेताओं और मंत्रियों के अलावा एनडीए के सहयोगी दलों के नेताओं ने भी अटल जी को श्रद्धांजलि दी.
 
Atal Bihari Vajpayee death anniversary PM Modi
Image credits: ANI

आज पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 5वीं पुण्यतिथि पर देश उन्हें नमन कर रहा है. बुधवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत अन्य नेता 'सदैव अटल' पर अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे. सभी ने उन्हें याद करते हुए पुष्प अर्पित किए. स्पीकर ओम बिरला, गृह मंत्री अमित शाह भी समाधि स्थल पर मौजूद रहे. बीजेपी नेताओं और मंत्रियों के अलावा एनडीए के सहयोगी दलों के नेताओं ने भी अटल जी को श्रद्धांजलि दी.

'अटलजी के नेतृत्व में भारत काे फायदा हुआ' 

प्रधानमंत्री मोदी ने वाजपेयी को उनकी पुण्यतिथि पर ट्वीट के ज़रिये भी श्रद्धांजलि दी.  मोदी ने कहा- "उनके नेतृत्व से भारत को बहुत फायदा हुआ है. उन्होंने भारत की प्रगति को बढ़ावा देने और कई क्षेत्रों में इसे 21वीं सदी में ले जाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. पीएम ने कहा, मैं भारत के 140 करोड़ लोगों की तरफ से अटल जी को उनकी पुण्य तिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं."


'सुशासन की नींव रखी, भारत के सामर्थ्य से परिचय कराया' 

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, "भारतीय राजनीति के अजातशत्रु परम श्रद्धेय अटल जी ने विचारधारा और सिद्धांतों पर आधारित राजनीति के सबसे उच्च मानक स्थापित किए राष्ट्रसेवा की अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति से एक तरफ उन्होंने सुशासन की नींव रखी तो दूसरी ओर उन्होंने पोखरण से पूरे विश्व को भारत के सामर्थ्य का परिचय कराया. अपने संगठन कौशल से पार्टी को शून्य से शिखर तक पहुंचाने में अमूल्य योगदान देने वाले ऐसे युगपुरुष को उनकी पुण्यतिथि पर कोटिशः नमन."

'देश को विकास के पथ पर अग्रसर किया'

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, "अटलजी की पुण्यतिथि पर मैं उन्हें स्मरण एवं नमन करता हूं. उन्होंने देश को विकास और सुशासन के पथ पर अग्रसर किया. उन्हें मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि."

'कदम मिलाकर चलना होगा...'

स्पीकर ओम बिरला ने वाजपेयी की कविता शेयर की और नमन किया. उन्होंने लिखा, 

बाधाएं आती हैं आएं
घिरें प्रलय की घोर घटाएं
पांवों के नीचे अंगारे
सिर पर बरसें यदि ज्वालाएं
निज हाथों से हंसते-हंसते
आग लगाकर जलना होगा
कदम मिलाकर चलना होगा.

पूर्व प्रधानमंत्री श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी की पुण्यतिथि पर सादर नमन. उनकी पुनीत स्मृतियां हमारे लिए प्रेरणा हैं.

'करोड़ों कार्यकर्ताओं के प्रेरणस्रोत हैं वाजपेयी'

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा, "पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी देश के करोड़ों कार्यकर्ताओं के प्रेरणास्रोत हैं. एक कुशल संगठनकर्ता के रुप में विचारधारा और सिद्धांतों पर आधारित अटलजी का जीवन राष्ट्र के प्रति सदैव समर्पित रहा. आज उनके स्मृति दिवस पर उन्हें कोटि-कोटि वंदन."

Tags

Share this story