Delhi Floods: दिल्ली में यमुना के बढ़ते जलस्तर से हाई अलर्ट! 60 टीमें तैयार

दिल्ली में फिर से हालात बेकाबू ना हो इसके चलते बाढ़ एवं सिंचाई विभाग मंत्री सौरभ भारद्वाज ने सभी संबंधित विभागों को हाई अलर्ट पर रखा हुआ है.
 
Yamuna River
Wikimedia Commons

Delhi Floods: दिल्ली में एक बार फिर से यमुना नदी उफान पर है और इसके कारण दिल्ली सरकार और लोगों की टेंशन बढ़ गई है. दिल्ली के ओल्ड यमुना ब्रिज पर सोमवार सुबह 7:00 बजे जलस्तर 206.56 मीटर दर्ज किया गया था, वहीं रविवार को यह जलस्तर 206.44 मीटर था. दिल्ली में फिर से हालात बेकाबू ना हो इसके चलते बाढ़ एवं सिंचाई विभाग मंत्री सौरभ भारद्वाज ने सभी संबंधित विभागों को हाई अलर्ट पर रखा हुआ है. उन्होंने यह भी बताया कि प्रशासन हर उस इलाके पर नजर बनाए हुए हैं जहां बाढ़ का खतरा हो सकता है.

क्या कहा सौरभ भारद्वाज ने?

पत्रकारों के साथ हुई बातचीत में सौरभ भारद्वाज ने कहा कि ‘यमुना का जलस्तर एक बार फिर से बढ़ना शुरू हो गया है. इस समय यमुना खतरे के निशान से ऊपर बह रही है और इसका जलस्तर 206 मीटर पर है’. उन्होंने बताया कि ‘यमुना के बढ़ते जलस्तर का कारण हथिनी कुंड बैराज से छोड़ा जा रहा 2 लाख क्यूसेक पानी है जिसके चलते यमुना का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है’. उन्होंने बताया कि ‘इस बार दिल्ली सरकार पूरी तरह तैयार है और हालात काबू करने के लिए 60 टीमें तैनात की गई हैं’.

खतरे के निशान से 1 मीटर ऊपर बह रही यमुना

यमुना का जलस्तर इस समय खतरे के निशान से 1 मीटर ऊपर चला गया है. हथिनी कुंड बैराज से लगातार लाखों क्यूसेक पानी यमुना नदी में छोड़ा जा रहा है जिसके कारण रविवार को सुबह 4:00 बजे इसका जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया. केंद्रीय जल आयोग ने बताया कि अभी यमुना नदी में और पानी पड़ेगा. उन्होंने बताया कि इसका जलस्तर अभी 206.70 मीटर तक जा सकता है. हालांकि राहत की खबर यह है कि हथिनी कुंड बैराज से छोड़े जा रहे पानी की मात्रा अब 40 से 45 क्यूसेक ही रह गई है.

Tags

Share this story