Drink Curry Leaves Boiled Water: इन पत्तों को पानी में उबालकर पीने से होते हैं कई सारे फायदे, जानिए नाम

 भारतीय रसोई में सभी मसालों और सामग्री के साथ आपको करी पत्ता जरूर मिल जाएगा। दूसरी ओर, करी पत्ता दक्षिण भारतीय व्यंजनों में मानार्थ है। चाहे वो डोसा हो, सांभर हो या इडली. हालांकि करी पत्ता खाने में भी अच्छा होता है. 
 
Drink Curry Leaves Boiled Water: इन पत्तों को पानी में उबालकर पीने से होते हैं कई सारे फायदे, जानिए नाम
Drink Curry Leaves Boiled Water: इन पत्तों को पानी में उबालकर पीने से होते हैं कई सारे फायदे, जानिए नाम

Drink Curry Leaves Boiled Water: भारतीय रसोई में सभी मसालों और सामग्री के साथ आपको करी पत्ता जरूर मिल जाएगा। दूसरी ओर, करी पत्ता दक्षिण भारतीय व्यंजनों में मानार्थ है। चाहे वो डोसा हो, सांभर हो या इडली. हालांकि करी पत्ता खाने में भी अच्छा होता है. आपको बता दें, करी पत्ता प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा, विटामिन सी, कैरोटीन, कैल्शियम, आयरन जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसलिए इसके सेवन से शरीर को कई समस्याओं से छुटकारा मिल जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अगर आप करी पत्ते को पानी में उबालकर पीते हैं तो आपकी सेहत को कितने फायदे हो सकते हैं.


करी पत्ते से फायदे-
1.
अगर आप अपनी इम्यूनिटी को बढ़ाना चाहते हैं तो करी पत्ते को पानी में उबालकर पीना शुरू कर दें. इससे आपके शरीर में ताकत आती है। दरअसल, करी पत्ता एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है। इसके सेवन से आपके शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। जिससे आप मौसमी बीमारियों से बचे रहते हैं।

2. अधिक वजन से परेशान लोग करी पत्ते को पानी में उबालकर पी सकते हैं। इससे तेजी से वजन कम होता है। आप करी पत्ते का इस्तेमाल अपने खाने में भी कर सकते हैं. क्योंकि इसमें कैलोरी बहुत कम और फाइबर भरपूर होता है। इससे आपके शरीर में चर्बी नहीं बढ़ती है।

3. सुबह करी पत्ते को पानी में उबालकर पीने से आपकी पाचन शक्ति मजबूत होती है। इससे आपका मेटाबॉलिज्म बूस्ट होता है। साथ ही इससे पाचन तंत्र भी अच्छा रहता है। करी पत्ते को पानी में उबालकर पीना दिल की सेहत के लिए भी बहुत अच्छा होता है।

4. आपको बता दे की करी पत्ते में फाइबर की मात्रा अधिक होने के कारण इसके सेवन से आपका पेट लंबे समय तक भी भरा रहता है। और जिससे आप ओवर ईटिंग से भी बच सकते हैं. इतना ही नहीं इसके सेवन से ब्लड शुगर लेवल भी कंट्रोल में रहता है.

Tags

Share this story