Asia Cup Final 2023: मोहम्मद सिराज ने जीता दिल, मैदान कर्मियों को दी प्लेयर ऑफ द मैच अवॉर्ड की राशि

अपने इस प्रदर्शन के बाद मोहम्मद सिराज ने कहा कि ये एक सपने जैसा लगता है. उन्होंने कहा कि पिछली बार मैंने श्रीलंका के खिलाफ त्रिवेन्द्रम में ऐसा ही किया था. उस मैच में चार विकेट जल्दी मिल गए थे, लेकिन पांच विकेट नहीं ले पाए. सिराज बोले कि एहसास हुआ कि आपको वही मिलता है जो आपके भाग्य में है. 
 
Asia Cup Final 2023
twitter

Asia Cup Final 2023: एशिया कप 2023 के फ़ाइनल मुकबाले में भारत ने श्रीलंका को मात्र 50 रन पर ढेर कर दिया है. तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज की कहर बरपाती गेंदबाजी के सामने कोई भी श्रीलंकाई बल्लेबाज टिक नहीं पाया. सिराज ने इस मैच में मात्र 7 ओवर में 21 रन देकर छह विकेट झटके. जिसके लिए उन्हें 'प्लेयर ऑफ द मैच' अवार्ड से नवाजा गया.

सिराज को प्लेयर ऑफ द मैच अवार्ड के साथ -साथ बतौर इनाम 4 लाख रुपये भी दिये गए. मगर इस दौरान उन्होंने कुछ ऐसा किया जिसके चलते न सिर्फ भारत बल्कि श्रीलंका के फैंस का भी उन्होंने दिल जीत लिया. सिराज ने अपना यह प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब और मिलने वाली इनाम राशी को ग्राउंड स्टाफ के नाम कर दिया. सिराज ने कहा कि इन सभी ने काफी मेहनत की है. यही खिताब के असली हकदार हैं.

अपने इस प्रदर्शन के बाद मोहम्मद सिराज ने कहा कि ये एक सपने जैसा लगता है. उन्होंने कहा कि पिछली बार मैंने श्रीलंका के खिलाफ त्रिवेन्द्रम में ऐसा ही किया था. उस मैच में चार विकेट जल्दी मिल गए थे, लेकिन पांच विकेट नहीं ले पाए. सिराज बोले कि एहसास हुआ कि आपको वही मिलता है जो आपके भाग्य में है. उन्होंने कहा कि आज ज्यादा कोशिश नहीं की, मैंने हमेशा सफेद गेंद वाले क्रिकेट में स्विंग की तलाश की है. पिछले खेलों में कुछ खास नहीं मिला, लेकिन आज यह स्विंग कर रहा था और मुझे आउटस्विंगर से अधिक विकेट मिले. बल्लेबाजों को ड्राइव कराना चाहते थे. इसी का फायदा उठाया.

बता दें इस मैच में भारत ने श्रीलंका को 10 विकेट के बड़े अंतर से हराते हुए 8वीं बार इस खिताब को जीता. इससे पहले भारत ने 1984, 1988, 1990–91, 1995, 2010, 2016 और 2018 में खिताब जीता था. भारत ने यह टूर्नामेंट सात बार वनडे और एक बार टी20 में जीता है.

यह भी पढ़े: Asia Cup 2023 Final: 'आज सिराज का स्पीड चालान नहीं कटेगा,' मियां भाई की गेंदबाज़ी देखकर दिल्ली पुलिस का ट्वीट

Tags

Share this story