Yoga Day 2023: योगा करने के होते कई फायदे,मिलती है बीमारियों से मुक्ति 

योग हमारे पुरे शरीर के लिए फायदेमंद माना जाता है। और लोगों का ये भी मानना ​​है कि योग केवल मानसिक स्वास्थ्य को ठीक रखता है, लेकिन शोधकर्ताओं ने पाया है 
 
Yoga Day 2023: योगा करने के होते कई फायदे,मिलती है बीमारियों से मुक्ति 
Yoga Day 2023: योगा करने के होते कई फायदे,मिलती है बीमारियों से मुक्ति 

Yoga Day 2023:  योग हमारे पुरे शरीर के लिए फायदेमंद माना जाता है। और लोगों का ये भी मानना ​​है कि योग केवल मानसिक स्वास्थ्य को ठीक रखता है, लेकिन शोधकर्ताओं ने पाया है कि नियमित योग मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं को कम करने, शरीर को स्वस्थ रखने और बीमारियों के खतरों को कम करने में भी विशेष लाभ पहुंचा सकता है। इसके साथ ही कई शोधों में योग के अभ्यास को मधुमेह और हृदय रोगों की समस्याओं को कम करने में भी फायदेमंद पाया गया है।

योग शरीर को बनता है लचीला 

आपको बता दे की फिटनेस बरकरार रखने के लिए शरीर को लचीला बनाए रखना सबसे जरूरी माना जाता है। और योग लचीलेपन में सुधार करता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का यह भी कहना है कि वर्तमान समय में जीवनशैली में गड़बड़ी और शारीरिक निष्क्रियता की कमी के कारण हमारे शरीर का लचीलापन कम होता जा रहा है, यही कारण है कि कम उम्र में ही लोगों के लिए तेजी से झुकना या जमीन पर बैठना मुश्किल हो गया है। लचीलेपन की कमी के कारण कमर दर्द की समस्या बढ़ती जा रही है।

चिंता और तनाव की समस्या दूर 

बता दे की योग तनाव की समस्या से राहत दिलाने में मदद करता है। अमेरिकन साइकोलॉजिकल एसोसिएशन द्वारा किए गए शोध में पाया गया कि विश्व स्तर पर बड़ी संख्या में लोग तनाव-चिंता विकारों से पीड़ित हैं। योग-सांस लेने के व्यायाम को दिनचर्या में शामिल करने से मन को शांत करने और मस्तिष्क को स्वस्थ रखने में मदद मिल सकती है। योग का अभ्यास, विशेष रूप से ध्यान, आपको शांत करता है और अच्छा महसूस कराने वाले हार्मोन जारी करने में भी मदद करता है।

सूजन का खतरा होता है कम 

सूजन को शरीर में कई पुरानी बीमारियों का एक प्रमुख कारण माना जाता है। हृदय रोग, मधुमेह, गठिया, क्रोहन रोग जैसी समस्याएं सूजन से जुड़ी हैं। अध्ययनों की समीक्षा में पाया गया कि विभिन्न शैलियों और तीव्रता का योग सूजन को कम करके पुरानी बीमारियों से बचाने में मदद कर सकता है। यही कारण है कि हृदय रोग और मधुमेह के रोगियों को नियमित योगाभ्यास की सलाह दी जाती है।

योग से रोग प्रतिरोधक क्षमता 

आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली शरीर को संक्रामक रोगों से होने वाले जोखिमों से बचाने में मदद करती है। योगाभ्यास से रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है। अध्ययनों से पता चला है कि जब आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है तो आप बीमारियों के प्रति अधिक संवेदनशील हो जाते हैं। कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि योग का अभ्यास (विशेष रूप से लंबे समय तक लगातार) करने से बेहतर प्रतिरक्षा प्रणाली के निर्माण में लाभ होता है।
 

Tags

Share this story